नर्रा कांड: 21 लोगों पर दर्ज हुई एफआईआर, 15 महिलाओं पर प्रतिबंधात्मक कार्रवाई, यहां ग्रामीणों ने पुलिस पर किया था पथराव

घटना के बाद से पुलिस पथराव करने वाले और ग्रामीणों को उकसाने वालों को वेरीफिकेशन कर गिरफ्तारी शुरू कर दी थी। मंगलवार की सुबह भी कुछ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इन सभी के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। पुलिस के अनुसार, नर्रा में अब हालात काबू में है। फिर भी ऐहतियात के तौर पर यहां अतिरिक्त बल तैनाती की गई है।

0
566

महासमुंद। कोमाखान थाना क्षेत्र अंतर्गत नर्रा के 21 लोगों के खिलाफ अलग-अलग मामले में एफआईआर दर्ज पुलिस ने की है। इनमें से 20 लोगों की गिरफ्तारी भी किया जा चुका है। वहीं 15 महिलाओं के खिलाफ प्रतिबंधात्मक कार्रवाई की गई है। इसके साथ ही किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए पुलिस अलर्ट है। यहां अतिरिक्त बल तैनाती कर दी गई है।

बतादें नर्रा के गिरफ्तार युवकों को छोड़ने की मांग को लेकर नर्रा के ग्रामीण कोमाखान थाना का घेराव करने आए थे। घेराव करने पहुंचे ग्रामीणों को पुलिस ने रोक दिया था। इसके बाद नर्रा के ग्रामीण उग्र हो गए और पुलिस पर जमकर पथराव किया था। इस पथराव की घटना में 35 से ज्यादा कर्मचारी घायल हुए थे। पथराव के बाद पुलिस आंसू गैस छोड़ते हुए ने हल्का बल प्रयोग का ग्रामीणों को खदेड़ा था।

यहां पढ़ें: नर्रा कांड: ग्रामीणों ने पुलिस पर किया पथराव, भीड़ हटाने पुलिस ने आंसू गैस के दागे गोले, ग्रामीणों पर हल्का बल प्रयोग भी

इस घटना को लेकर कोमाखान पुलिस ने अलग-अलग FIR दर्ज कर 13 ग्रामीणों को गिरफ्तार किया है। इन पर धारा 147, 148 और शासकीय कार्य में बाधा की धारा 186, 353 के तहत मामला FIR दर्ज  गया है। इसके अलावा 15 महिलाओं को भी गिरफ्तार किया गया था, जिन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया है।

घटना के बाद से पुलिस पथराव करने वाले और ग्रामीणों को उकसाने वालों को वेरीफिकेशन कर गिरफ्तारी शुरू कर दी थी। मंगलवार की सुबह भी कुछ लोगों को गिरफ्तार किया गया है। इन सभी के खिलाफ कार्रवाई की जा रही है। पुलिस के अनुसार, नर्रा में अब हालात काबू में है। फिर भी ऐहतियात के तौर पर यहां अतिरिक्त बल तैनाती की गई है।

loading...

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here